You are here
Home > Uncle रिपोर्ट > सूमो पहलवान बनने के लिए क्या-क्या पापड़ बेलने पड़ते हैं जानकर आपकी आंखें फटी की फटी रह जाएंगी

सूमो पहलवान बनने के लिए क्या-क्या पापड़ बेलने पड़ते हैं जानकर आपकी आंखें फटी की फटी रह जाएंगी

भारत में कुश्ती को तो हर कोई जानता है पर इसी कुश्ती को जापान में सूमो  कहा जाता है। सूमो जापान का राष्ट्रीय खेल है, जापान में तो इस खेल की दीवानगी इस हद तक है कि लोग सारे काम छोड़कर सूमो देखने में लग जाते हैं। जैसी  दीवानगी भारत में क्रिकेट को लेकर देखी जाती है वैसे ही जापान में सूमो  को लेकर दीवानगी देखी जाती है। सूमो का इतिहास बहुत पुराना है ये खेल 18 वीं सदी में प्रचलित हुआ था।

सूमो पहलवानी तो आप ने  कई देखी होंगी पर क्या आपको पता है इसके पीछे एक कड़वी सच्चाई है जो हर सूमो पहलवान को झेलनी पड़ती है। सूमो पहलवान बनने के लिए बचपन से ही ट्रेनिंग दी जाती है। सूमो पहलवान अपने पूरे दिन में दस हजार कैलोरी का खाना खा जाते हैं।

सूमो पहलवान बनने के लिए किसी भी पहलवान को मोटा तगड़ा होना पड़ता है उसके लिए सामन्य आदमी से  ज्यादा खाना खाना पड़ता है इसके कारण इन्हें  कई तरह की सांस की प्रॉब्लम हो जाती ।है कई सारे सूमो पहलवान रात को ऑक्सीजन मास्क लगाकर  सोते हैं। सूमो पहलवान एक सामान्य व्यक्ति से कम ही जी पता है। सूमोपहलवान की औसतन आयु 60 से 65 वर्ष है, जबकि जापान में सामान्य व्यक्ति की औसत आयु 70 से 75 वर्ष है.

...

loading...
Top