You are here
Home > Uncle मस्ती > बॉलीवुड की 5 ऐसी फिल्मे जिसे सेंसर बोर्ड ने किया बैन फिर भी लोगो को देखने से नहीं रोक पाया

बॉलीवुड की 5 ऐसी फिल्मे जिसे सेंसर बोर्ड ने किया बैन फिर भी लोगो को देखने से नहीं रोक पाया

भारत में सेंसर बोर्ड की भूमिका पर हमेशा ही प्रश्न चिन्ह उठते ही रहे हैं बॉलीवुड की ऐसी फिल्में जिनको सेंसर बोर्ड समाज के लिए हानिकारक करार दे देता है उसे सेंसर बोर्ड रिलीज होने की अनुमति नहीं देता फिर भी यह फिल्में दर्शकों के सामने आ ही जाती है। इंटरनेट के माध्यम से या फिर किसी और देश में रिलीज़ हो कर यह फिल्में लोगों के पास पहुंच ही जाती है। ऐसे में सेंसर बोर्ड पर हमेशा ही पर प्रश्न चिन्ह लगते रहे हैं। ऐसे में सवाल उठता जब लोग  ऐसी फिल्मों को देख ही रहे हैं तो सेंसर बोर्ड किस काम का। इन फिल्मों में ऐसी फिल्में भी हैं जो परिवार के साथ नहीं देखी जा सकती या फिर ऐसी फ़िल्में जो समाज के लिए हानिकारक होती है फिर भी लोग चोरी चुपके ऐसी फिल्में देख ही लेते हैं इसमें इंटरनेट एक बड़ा माध्यम साबित हुआ है।

बैंडिट क्वीन1994


बैंडिट क्वीन कुख्यात डाकू फूलन देवी के जीवन पर आधारित थी जिसने कई सारे ऐसे दृश्य थे जो सेंसर बोर्ड को पसंद नहीं थे। इसीलिए इस फिल्म को अभी तक रिलीज़ नहीं किया गया फिर भी यह फिल्में लोगों के पास पहुंच ही गई।

फायर 1996

दीपा मेहता द्वारा रचित इस फिल्म में शबाना आजमी नंदिता दास के बीच के संबंधों को दिखाया गया था। यह ऐसी  फिल्में थी जिसमें पहली बार स्त्री की स्त्री से संबंध दिखाए गए थे जिस को सेंसर बोर्ड ने पास करने से मना कर दिया था।

कामसूत्र 1996

1996 में आई फिल्म कामसूत्र प्राचीन भारत पर आधारित है सोलवी शताब्दी में किस तरह से प्यार परवान चढ़ता था और किस तरह से ए राजा अपने मतलब के लिए प्रेमी जोड़ों की आहुति चढ़ा देते थे इसी पर आधारित थी।

सिन्स 2005

इस फिल्म में एक पादरी के कामुक दृश्य को दिखाया गया था। इस फिल्म को भी सेंसर बोर्ड ने  बैन कर दिया था।

अनफ्रीडम 2015

अनफ्रीड यह फिल्म लेसबियन जोड़ी की प्रेम कहानी पर आधारित थी जिसके अंदर कई कामुक दृश्य से जिस को आधार मानते हुए सेंसर बोलने से बात करने से मना कर दिया।

...

loading...
Top