You are here
Home > Uncle ज्ञान > 2016 के टॉप 5 ऐसे TV विज्ञापन जो अपने पिछे छोड़ गए जनता का आक्रोश , विज्ञापन कंपनी के खिलाफ !

2016 के टॉप 5 ऐसे TV विज्ञापन जो अपने पिछे छोड़ गए जनता का आक्रोश , विज्ञापन कंपनी के खिलाफ !

एडवर्टाइजमेंट का उद्देश्या सिर्फ सब जानते हैं अटेंशन को खोजना या फिर अटेंशन दिलवाना, लेकिन कभी-कभी क्या होता है क्रिएटिव एजेंसी मार्केटिंग वाले कुछ ज्यादा ही सोच लेते हैं और अपनी बाउंड्री को क्रोश कर जाते हैं और विवदास्पंद रचनात्मकता दिखा जाते हैं और दर्शकों का ध्यान तो दिलवा नहीं पाते बजाय ध्यान दिलवाने के गुस्सा जरूर दिलवा देते हैं और विचारों की प्रतिक्रिया को झेलते हैं |

यह है 5 विज्ञापन जिन्हें आप देखिए और खुद-ब-खुद निर्णय लीजिए कि यह सही है या गलत-

1.फ्लिपकार्ट गोरखा-विरोधी विज्ञापन

Flipkart ने जब "assured flipkart" नाम से कैंपेन लॉन्च किया इस दौरान उन्होंने विज्ञापन बनाया और उसमें गोरखा को एक टकसाली चौकीदार प्रोजेक्ट किया एक ऐसी गलती जो बॉलीवुड फिल्मों में सदियों से होती चली आ रही है | इस विज्ञापन पर नेपाली दर्शकों की तो गंभीर प्रतिक्रिया थी लेकिन उन भारतीयों की भी गंभीर प्रतिक्रिया थी जो नसलवाद और रूढ़िबद्धता को एक सिर्फ हंसने के लिए प्रयोग में लाने के खिलाफ थे |  अंत में flipkart ने इस पर माफी मांगनी पडी |

2.ओला का लिंग भेद

ओला के  एक विज्ञापन में  एक लड़का कहता है "मेरी गर्लफ्रेंड चलती है 525 रुपए पर किलोमीटर लेकिन ओला माइक्रो चलती है सिर्फ ₹6 पर किलोमीटर"|

इसका यह निष्कर्ष निकलता है कि ओला  कहना चाह रहे हैं कि लड़कियां सिर्फ पैसा खर्च करने वाली मशीन है, हमेशा बॉयफ्रेंड की शॉपिंग पर डिपेंड रहती हैं, जिससे ओला माइक्रो सस्ती है|

ओला के इस विज्ञापन में कोई भी सेंस नन्ही है | और ओला ने इस ऐड से सारी औरत जात से  लिंग भेद किया है | ओला ने इस ऐड से ये दिखा दिया की वो औरतो की कितनी इज्जत करते है और महिलाओं के गुस्से का सीकर बने |

3. पेटीएम का असंवेदनशील विज्ञापन

विमुद्रीकरण के तुरंत बाद पेटीएम ने एक विज्ञापन चलाया जिसमें टैग लाइन थी "ड्रामा बंद करो paytm करो" इसमें एक औरत शिकायत करती है कि बैंक के बाहर लंबी लंबी लाइन लगी हुई है और इस नौकरानी को पैसे देने थे ,तभी मेड आकर कहती है कि मैडम ड्रामा बंद करो paytm से सैलरी भेज दो |

विमुद्रीकरण से जनता परेशान थी उपर से  इस विज्ञापन में जनता की परेशानी को ड्रामा टैग दिया |

बाद में paytm ने विज्ञापन की टैग लाइन बदल दी है |

4.जेम्स बॉन्ड के साथ पान बहार

हम सभी भारतीय तब शन्न रह गए  जब पियर्स ब्रॉसनन को तंबाकू से संबंधित उत्पाद बेचते हुए एक विज्ञापन में देखा | पियर्स ब्रॉसनन , हम सभी जानते हैं जेम्स बॉन्ड के सबसे लोकप्रिय चेहरे है |  इस विज्ञापन में हमने देखा कि उनके पास पान बहार का एक उत्पाद है और अपने विरोधियों को उसी से मारते हैं , वो एक ऐसे उत्पाद का प्रचार करते हैं जो कैंसर पैदा करता है  सारे भारतीय क्रोधित होते हैं पियर्स ब्रॉसनन  पर आरोप लगाते हैं कि वो एक  गैर जिम्मेदार सेलिब्रिटी हैं|

बाद में ब्रोज़नन ने कहा की वो ब्रांड से जुड़े नन्ही थे |

5.रणवीर सिंह की सेक्सिएस्ट विज्ञापन

जैक और जोन्स, एक ब्रांड है जो पुरुषों के वस्त्र बेचता है, एक बड़े पैमाने पर विवाद पैदा करते है जब उनके विज्ञापन में रणवीर सिंह  आपत्तिजनक तरीके से अपने कार्यालय सहयोगी कंधे पर  ले रखा  है, यहां तक कि आपत्तिजनक संवाद के साथ: 'DON'T HOLD BACK TAKE YOUR WORK HOME'। इसका हिन्दी में मीनिंग ये होता है की अपना काम पिच्छे मत छोडो , अपना काम घर लेके चलो !

image source: indianexpress.com
image source: indianexpress.com

इसके बाद महिलाओ ने ब्रांड के खिलाफ प्रधार्शन किया यंहा तक कि रणवीर सिंह के खिलाफ भी ,महिलांए क्या सिर्फ एक मांस के तुकडे के सामान है |  और कंपनी पर लिंगभेद का आरोप लगाया , बाद में रणवीर सिंह ने भी महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ने वाली संश्था से माफी मांगी और कहा उन्हें पंच्लिने के बारे में पता नन्ही था ,जब वह फोटोशूट के लिए अग्री हुए थे |

...

loading...

Leave a Reply

Top