You are here
Home > Uncle रिपोर्ट > 2016 बहुत अच्छा रहा भारतीय हॉकी टीम के लिए

2016 बहुत अच्छा रहा भारतीय हॉकी टीम के लिए

पिछले कुछ सालों में भारतीय हॉकी ने बहुत बुरा वक्त देखा है अगर देखा जाए तो 2008 में बीजिंग ओलंपिक में भारतीय हॉकी क्वालीफाई भी नहीं कर पाई और 2012 में लंदन ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने आखरी स्थान पाया था लेकिन जिस टीम ने आठ गोल्ड मेडल जीते हो उस टीम के लिए यह साल 2016 यादगार रहा |

2016 में भारतीय हॉकी में नई शुरुआत हुई ,  भारतीय टीम रियो ओलंपिक में क्वार्टर फाइनल तक पहुंचने में कामयाब हुई और जूनियर हॉकी टीम ने 15 साल बाद एक वर्ल्ड कप जीतने की उपलब्धि प्राप्त की | 2012 में जो टीम आखरी नंबर पर रही हो और उसने रियो ओलंपिक में जबरदस्त  जबरदस्त प्रदर्शन किया टीम को क्वार्टर फाइनल में बेल्जियम ने हराया इस प्रतिस्पर्धा में भारतीय टीम भले ही पदक न जीत पाई हो लेकिन भारतीय हॉकी टीम ने जो खेल प्रदर्शन  प्रदर्शन दिखाया उसकी उम्मीद किसी को नहीं थी  इस प्रदर्शन के परिणाम यह निकला कि टीम में नई जान फूँक दी है  जिसका प्रणाम आगे कुछ दिनों में दिखाई देगा |

साल 2016 में एशियन चैंपियंस ट्रॉफी भी जीती

रियो ओलंपिक में भारतीय टीम 36 साल बाद एक मेडल जीतने का मौका चूक गयी हो  लेकिन चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान को हराकर देशवासियों को दिवाली का एक बहुत अच्छा तोहफा दिया हमारी टीम ने पाकिस्तान को 3-2 से हराया और चैंपियंस ट्रॉफी में गोल्ड पर कब्जा किया

2016 में जूनियर हॉकी टीम ने वर्ल्ड कप जीतने की उपलब्धि प्राप्त की

जूनियर हॉकी टीम ने 15 साल बाद दोबारा चैंपियन बनने की उप्लाभ्धि प्राप्त की इस प्रतिस्पर्धा में भारत ने बेल्जियम को 2-1 से हराकर विश्व  विश्व कप जीता और अपनी सरजमीं पर चैंपियन बनने  वाली पहली टीम बनी इससे पहले  जूनियर हॉकी टीम 2001 में चैंपियन बनी थी अगर भारतीय जूनियर टीम ऐसे ही आगे बढ़ती रही तो वह दिन दूर नहीं जिस दिन टीम के पैरों में जहां होगा |

...

loading...

Leave a Reply

Top